Asal Khel Lyrics – Nickvijay from the Movie , sung by Nickvijay. The song is composed by and the lyrics are penned by Nickvijay. 

  • Singer: Nickvijay
  • Composer: Nickvijay
  • Music Producer: HHB
  • Recording Engineer: Sreejith Padmakumar
  • Mixing: Archer D’Costa
  • Mastering: Brian Lucey
  • Lable: Zee Music

Lyrics

Yeh Samay Yatra Hai
Chal Sattar Ke Raasto Ke Beech
Jahaan Na Koi Bhed Bhaav Na Koi
Gora Na Kaala Na Uccha Na Neech
Aadmiyat Ke Naam Pe De Rahe Attyachar
Aur Fir Bhi Hum Dheet Ukhaad Le Jo Ukhaadna Hai
Khel Ke Aage Na Hogi Kissi Ki Jeet…

Asal Khel Hai Yeh Iss Khel Ke Khiladi
Hum Aasaan Samajh Na Chote Sabse Bade Khiladi
Hum Asal Khel Hai Yeh Iss Khel Ke
Khiladi Hum Aasaan Samajh Na Chote
Tu Jaali Aur Sab Pe Bhaari Hum….

Adbhut Shakti Yeh 5 Mukhya Tatvo Ke Angaaro Ke Saath
Bujhaane Badle Ki Aag,

Jee Gaye Woh Asli Aur Mit Gaye Woh Jhaag
Khel Yeh Uss Taale Ki Chaabi…

Khule Bheetar Khatam Sab Vinaashkaari
Sadak Se Aaya Yeh Khel Iss Khel Ko Asal Rakhna Humaari Zimmedaari

Aaye Hai Karne Kuch Hatkat Datkar Karne Kuch Bhaari Scene Jamkar
Bhaukne Waale Kutte Bohot Ekta Se Ladenge Nahi Hoga Batkar

Dharam Hai Na Koi Jaat Teri Soch Tu Sochle Kis Taraf Muda Hai
Jab Tu Kala Se Juda Hai Toh Dhundhle Khud Ke Bheetar Basa Khuda Hai

Jahaan Insaan Ki Soch Rukhe
Khel Ki Shuruvaat Hai
Shuruvaat Hi Aisa, Kehne Ki Kya Baat Hai…

Gazab Kalakaari Public Pagal Hori Apni Mehnat Jaari
Kaise Kar Lete Hai Yeh Sochke Vegyaanik Logo Mai Chaahi Hairaani

Fader Upar Niche Aur Hum Sab Aage Duniya Peeche Peeche
Treble Aur Bass Ka Dhamaka Todh De Saare Bicchke Kaale Sheeshe
Mol Nahi Anmol Hai Yeh Isske Imaan Ko Na Muft Mai Beche
Fir Bhi Log Kitne Neech Hai
Jo Farzi Mukhoto Ke Piche Shaitaan Apno Ke Pairo Ko Kheeche

Asal Khel Hai Yeh
Iss Khel Ke Khiladi Hum
Aasaan Samajh Na Chote
Sabse Bade Khiladi Hum.…

Asal Khel Hai Yeh
Iss Khel Ke Khiladi Hum
Aasaan Samajh Na Chote
Tu Jaali Aur Sab Pe Bhaari Hum

Asal Asal Asal Khel
Asal Asal Asal Khel

Asal Khel Hai Yeh
Iss Khel Ke Khiladi Hum
Aasaan Samajh Na Chote
Tu Jaali Aur Sab Pe Bhaari Hum

Stunts Nahi Moves Kehte
Duniya Ghum Jaaye Aisi Taakat Rakhte
Haqq Paane Ki Zidd Karte
Mil Raha Kuch Nahi Beh Raha Rakht Hai.

Dekh Tiranga Lehra Raha Garv Se
Harr Ek Hindustani Kahega Gaurav Se
Olympics Mai Bhi Aa Gaye Ab Toh
Fir Bhi Log Pehchaane Bandar Ke Khel Se

Chamakte Sitaaro Ko Pure Brahmaand Se
Mitaane Kaale Badal Garajte Agyaan Se
Kitne Bhi Barse Ye Kaali Raatien
Indradhanush Ke Yeh Baan Chalte Abhimaan Se

Ghandagi Se Sansaar Bhar Raha
Mitaane Ungliyon Se Jaadu Kar Raha
Nisvaarth Hai Kitne Duniya Badalne
Apna Chehra Naam Chupa Raha

Shabdo Ke Samundar Mai Doob
Gehraayi Jab Naapega Asliyat Ko Tu Jaanega
Andar Jitna Tu Jaayega

Seekhle Tairna Warna Kinaare Pe Aayega
Chahat Badlaav Ki
Log Apnaayenge Ya Nahi Darr Ki Aahatien
Tab Remo Aur Ranveer Dono Maharati Full Power Support Mai

Waqt Badlega Paasa Paltega
Jalta Diya Andhere Mai Roshan Kardega
Gully Se Town Tak Street Se Club Tak
Dekh Har Jagah Bajega Itihaas Rachega

Rango Se Khafa The Ab Holi Manaayenge
Gaali Dene Waale Bhi Apni Boli Macchayenge

Darr Se Maa Baap Ka Haath Na Buraayi Ka Khaatma
De Meri Antar Aatma Ko Shaanti Parmaatma.

(Asal…Khel) X3
Asal Asal Asal Asal Khel…

Asal Khel Hai Yeh
Iss Khel Ke Khiladi Hum
Aasaan Samajh Na Chote
Sabse Bade Khiladi Hum

Asal Khel Hai Yeh
Iss Khel Ke Khiladi Hum
Aasaan Samajh Na Chote
Tu Jaali Aur Sab Pe Bhaari Hum

(Asal Asal Asal Khel) X2

Asal Khel Hai Yeh
Iss Khel Ke Khiladi Hum
Aasaan Samajh Na Chote
Tu Jaali Aur Sab Pe Bhaari Hum

यह समय यात्रा है
चल सत्तर के रास्तो के बीच
जहां न कोई भेद भाव न कोई
गोरा न काला न उच्चा न नीच
आदमियत के नाम पे दे रहे अत्त्याचार
और फिर भी हम ढीट उखाड़ ले जो उखाड़ना है
खेल के आगे न होगी किसी की जीत …

असल खेल है यह इस खेल के खिलाडी
हम आसान समझ न छोटे सबसे बड़े खिलाडी हम असल खेल है यह इस खेल के खिलाडी हम आसान समझ न छोटे
तू जाली और सब पे भारी हम ….

अद्भुत शक्ति यह 5 मुख्या तत्वों के अंगारो के साथ
बुझाने बदले की आग ,

जी गए वह असली और मिट गेइ वह झाग
खेल यह उस ताले की चाबी …

खुले भीतर ख़तम सब विनाशकारी
सड़क से आया यह खेल इस खेल को असल रखना हमारी ज़िम्मेदारी

आये है करने कुछ हटकट डटकर करने कुछ भारी सन जमकर
भौकने वाले कुत्ते बोहोत एकता से लड़ेंगे नहीं होगा बटकर

धरम है ना कोई जाट तेरी सोच तू सोचले किस तरफ मुदा है
जब तू कला से जुड़ा है तोह धुंधले खुद के भीतर बसा खुदा है

जहां इंसान की सोच रुखइ
खेल की शुरुवात है
शुरुवात ही ऐसा , कहने की क्या बात है …

गज़ब कलाकारी पब्लिक पागल होरी अपनी म्हणत जारी
कैसे कर लेते है यह सोचके वैज्ञानिक लोगो मई चाहि हैरानी

फादर ऊपर निचे और हम सब आगे दुनिया पीछे पीछे
ट्रेब्ले और बास का धमाका तोड़ दे सारे बिछ्के काले शीशे
मोल नहीं अनमोल है यह इस्सके ईमान को न मुफ्त मई बेचे
फिर भी लोग कितने नीच है
जो फ़र्ज़ी मुखोटो के पीछे शैतान अपनों के पैरो को खींचे

असल खेल है यह
इस खेल के खिलाडी हम
आसान समझ न छोटे
सबसे बड़े खिलाडी हम .…

असल खेल है यह
इस खेल के खिलाडी हम
आसान समझ न छोटे
तू जाली और सब पइ भारी हम

असल असल असल खेल
असल असल असल खेल

असल खेल है यह
इस खेल के खिलाडी हम
आसान समझ न छोटे
तू जाली और सब पे भारी हम

स्टंट्स नहीं मूव्स कहते
दुनिया घूम जाए ऐसी ताकत रखते
हक़्क़ पाने की ज़िद्द करते
मिल रहा कुछ नहीं बह रहा राखत है .

देख तिरंगा लहरा रहा गर्व से
हर्र एक हिंदुस्तानी कहेगा गौरव से
ओलंपिक्स मई भी आ गए अब तोह
फिर भी लोग पहचाने बन्दर के खेल से

चमकते सितारों को पुरइ ब्रह्माण्ड से
मिटाने कालइ बदल गरजते अज्ञान से
कितने भी बरसे ये काली रातें
इंद्रधनुषह के यह बाण चलते अभिमान से

गंदगी से संसार भर रहा
मिटाने उँगलियों से जादू कर रहा
निस्वार्थ है कितने दुनिया बदलने
अपना चेहरा नाम छुपा रहा

शब्दों के समुन्दर मई डूब
गहराई जब नापेगा असलियत को तू जानेगा
अंदर जितना तू जाएगा

सीखले तैरना वर्ण किनारे पे आएगा
चाहत बदलाव की
लोग अपनाएंगे या नहीं डर की आहटें
तब रेमो और रणवीर दोनों महारती फुल पावर सपोर्ट मई

वक़्त बदलेगा पास पलटेगा
जलता दिया अँधेरे मई रोशन करदेगा
गुल्ली से टाउन तक स्ट्रीट से क्लब तक
देख हर जगह बजेगा इतिहास रचेगा

रंगो से खफा The अब होली मनाएंगे
गाली देने वाले भी अपनी बोली मच्छायेंगे

डर से माँ बाप का हाथ न बुराई का खात्मा
दे मेरी अंतर आत्मा को शान्ति परमात्मा .

(असल …खेल ) X3
असल असल असल असल खेल …

असल खेल है यह
इस खेल के खिलाडी हम
आसान समझ न छोटे
सबसे बड़े खिलाडी हम

असल खेल है यह
इस खेल के खिलाडी हम
आसान समझ न छोटे
तू जाली और सब पे भारी हम

(असल असल असल खेल ) X2

असल खेल है यह
इस खेल कइ खिलाडी हम
आसान समझ न छोटे
तू जाली और सब पे भारी हम dh